Wednesday, September 26, 2012

सियानी गोठ


 सियानी गोठ
 
जनकवि स्व.कोदूराम “दलित

25 - पेपर

पेपर  मन –मां  जगत के ,  समाचार  छपवाव
पत्रकार  मन  सबो  ला , मारग सुघर दिखाव
मारग सुघर दिखाव, अउर जन-प्रिय हो जाओ
स्वारथ - बस पेपर-ला  ,झन पिस्तौल बनाओ
पेपर  मन  से जागृति आ जावय जन-जन मां
सुग्घर   समाचार   छपना   चाही   पेपर  -  मां.

[पेपर  - समाचार-पत्रों में जगत भर के समाचार प्रकाशित करें. पत्रकार जन सभी को अच्छी राह दिखायें और जनप्रिय हो जायें. स्वार्थ के लिये समाचार-पत्र को पिस्तौल मत बनायें. समाचार-पत्रों से जन-जागृति आ जाये. समाचार पत्र में अच्छे , सकारात्मक समाचार प्रकाशित होने चाहिये.]

3 comments:

  1. sakaratmak socha ...apke vichar se sahamat hun ....abhaar

    ReplyDelete
  2. काश इसका आधा भी सीख जायें सब..

    ReplyDelete