Sunday, January 1, 2012

नव वर्ष की शुभकामनायें


नव वर्ष की शुभकामनायें

             नवल वर्ष का अभिनंदन
             वन उपवन नूतन स्पंदन
             लता-वृक्ष का आलिंगन
             नीलाम्बर-वसुधा का चुम्बन

            
             लिपटी-सिमटी कलि अवगुंठित
             मादक मधुकर छेड़े गुंजन
             निरख ऋतु श्रृंगारमयी
             मेघराज भूले गर्जन.

             षड्यंत्र विफल हो गये सभी
             निर्झरिणी-सागर हुआ मिलन
             लय संग अंगनिया आई , लो
             यह नव-प्रभात की प्रथम किरण.

    ‘’निगम परिवार’’
                      

19 comments:

  1. मै बारह दिनों के लिए रिफ्रेशेर क्लास के लिए हैदराबाद चला गया था ! अतः ब्लॉग की क्रम / उपस्थिति बंद हो गयी थी ! आज ही लौटा हूँ ! इस अवसर पर वश यही कहूँगा ---भगवान सभी के दिल में शांति और सहन की शक्ति दें ! मै और मेरी धर्मपत्नी की ओर से आप सभी को सपरिवार -नव वर्ष की शुभ कामनाएं !

    ReplyDelete
  2. आपको भी ढेरों शुभकामनाये

    ReplyDelete
  3. नया वर्ष प्रभु के आशीर्वचनों से परिपूर्ण हो ...

    ReplyDelete
  4. आपको भी नववर्ष की हार्दिक शुभकामनायें..

    ReplyDelete
  5. आपको नव वर्ष 2012 की हार्दिक शुभ कामनाएँ।

    सादर

    ReplyDelete
  6. बहुत ही सुंदर रचना। आप सभी को नव-वर्ष की बहुत बहुत शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  7. बहुत सुन्दर रचना.
    नए वर्ष की हार्दिक बधाई.

    ReplyDelete
  8. आपकी प्रस्तुति बहुत ही अच्छी लगी.

    बहुत बहुत शुभकामनाएँ और हार्दिक बधाई.

    ReplyDelete
  9. आप तथा आपके परिवार के लिए नववर्ष की हार्दिक मंगल कामनाएं
    आपके इस सुन्दर प्रविष्टि की चर्चा कल दिनांक 02-01-2012 को सोमवारीय चर्चा मंच पर भी होगी। सूचनार्थ

    ReplyDelete
  10. आप को सपरिवार नव वर्ष 2012 की ढेरों शुभकामनाएं.

    इस रिश्ते को यूँ ही बनाए रखना,
    दिल मे यादो क चिराग जलाए रखना,
    बहुत प्यारा सफ़र रहा 2011 का,
    अपना साथ 2012 मे भी इस तहरे बनाए रखना,
    !! नया साल मुबारक !!

    आप को सुगना फाऊंडेशन मेघलासिया, आज का आगरा और एक्टिवे लाइफ, एक ब्लॉग सबका ब्लॉग परिवार की तरफ से नया साल मुबारक हो ॥


    सादर
    आपका सवाई सिंह राजपुरोहित
    एक ब्लॉग सबका

    आज का आगरा

    ReplyDelete
  11. सुन्दर प्रस्तुति .नव वर्ष मुबारक .साल की हर सुबह शाम मुबारक .

    ReplyDelete
  12. नव वर्ष पर सार्थक रचना
    आप को भी सपरिवार नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें !

    शुभकामनओं के साथ
    संजय भास्कर

    ReplyDelete
  13. आप लोगों को भी नववर्ष की शुभकामनाएं!

    ReplyDelete
  14. नूतन वर्ष अभिनन्दन .आपकी प्रस्तुति अप्रतिम रही .

    ReplyDelete
  15. बहुत सुन्दर रचना.
    नए वर्ष की हार्दिक बधाई

    ReplyDelete